ट्रेन में महिलाओं के लिए डायल 139, तुरंत पहुंचेगी आरपीएफ

ट्रेन में अकेले सफर कर रहीं महिलाओं को अगर हो कोई परेशानी तो करें तुरंत कॉल

रायपुर। Dial 139 for women in train, RPF will reach immediately. अगर आप ट्रेन में अकेली सफर करती हैं तो आपके लिए अच्छी खबर है। अब महिलाएं सफर के दौरान 139 में डायल कर आरपीएफ से मदद मांग सकती हैं। दरअसल, मेरी सहेली योजना के तहत अकेली महिला यात्रियों की सुविधाओं बढ़ाई जा रही है। पहले दो ट्रेनों की जांच होती थी, जिसे बढ़ाकर सात कर दी गई है। वहीं, रायपुर मंडल से निकलने वाली गाड़ियों में अकेले सफर कर रहीं महिला यात्रियों को काल कर उनका हालचाल लिया जा रहा है।

प्रांजलि को श्रेष्ठ कत्थक नृत्यांगना पुरस्कार

आरपीएफ के मुताबिक ऐसे यात्रियों की सारी जानकारियां ऑनलाइन की जा रही हैं और सभी मेरी सहेली सेंटर्स से इसका आदान-प्रदान किया जा रहा है, जिसकी सहायता से संबंधित महिला यात्री के मोबाइल पर काल कर उनका हालचाल या फिर किसी प्रकार की परेशानी को लेकर जानकारी ली जा रही है। वहीं, रात्रि के समय जांच के दौरान उनकी सकुशलता की जांच की जा रही है।

आरपीएफ की स्थापना दिवस के अवसर पर रायपुर के डिवीजनल सिक्योरिटी कमांडेंट संजय के गुप्ता ने बताया कि यात्री सुविधाओं को देखते हुए इसकी शुरूआत की गई है, जिसका अच्छा प्रतिसाद मिल रहा है। अकेले यात्रा करने वाली महिलाएं रेल मदद एप्लीकेशन के जरिए भी सहायता ले सकती हैं। इसके अलाव रेलवे के नंबर 139 पर भी काल कर सकती हैं।

इन ट्रेनों की हो रही जांच

  • सारनाथ एक्सप्रेस
  • अमरकंटक एक्सप्रेस
  • दुर्ग अंबिकापुर एक्सप्रेस
  • साउथ बिहार एक्सप्रेस
  • दुर्ग पुरी एक्सप्रेस
  • सिकंदराबाद सुपरफास्ट
  • रुपासी बांगला एक्सप्रेस

आठ माह में बिना टिकट 9.93 करोड़ वसूले

आरपीएफ के कमांडेंट ने बताया कि बिना टिकट यात्रा करने वालों पर लगातार नकेल कसी जा रही है। पिछले आठ महीनों में 1,92,389 यात्रियों को बिना टिकट यात्रा करते पकड़ा गया है। इनसे करीब 9 करोड़ 93 लाख 96 हजार रुपये की वसूली की गई है। ट्रेन में यात्रा के दौरान मोबाइल, लैपटाप, पर्स, आदि भी लोगों को वापस करवाए जा रहे हैं। जिसमें जनवरी से लेकर अगस्त तक 161 बैग या पर्स, 63 लैपटाप व 32 लाख रुपए के मोबाइल वापस किए गए हैं।

Back to top button