भाजपा सत्ता में लौटी तो संविधान फाड़कर फेंक देगी : राहुल गांधी

0
17

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने दावा किया कि अगर भाजपा केंद्र की सत्ता में लौटती है तो वह गरीबों, दलितों, आदिवासियों और ओबीसी को अधिकार देने वाले संविधान को फाड़कर फेंक देगी.

राहुल गांधी मध्य प्रदेश के भिंड जिले में एक रैली को संबोधित कर रहे थे. उन्होंने संविधान की एक प्रति हाथ में लेते हुए कहा कि मौजूदा लोकसभा चुनाव कोई सामान्य चुनाव नहीं है, बल्कि दो विचारधाराओं के बीच की लड़ाई है. उन्होंने दावा किया कि गरीबों, दलितों, आदिवासियों, ओबीसी को संविधान के कारण कई अधिकार मिले हैं, जिसने लोगों को मनरेगा, भूमि अधिकार, आरक्षण और अन्य चीजें भी दीं. अगर भाजपा सत्ता में आती है, तो वह इस संविधान को फाड़कर फेंक देगी.

वायनाड से सांसद गांधी ने दावा किया कि अमित शाह और उनके सांसदों ने मन बना लिया है कि अगर वे चुने गए, तो वे संविधान को फाड़कर फेंक देंगे. भाजपा चाहती है कि इस किताब (संविधान) को फेंक दिया जाए. उन्होंने आरक्षण के मुद्दे पर भी भाजपा सरकार पर निशाना साधा. उन्होंने पूछा कि यदि सत्तारूढ़ सरकार आरक्षण के खिलाफ नहीं है, तो वह सार्वजनिक उपक्रमों रेलवे और अन्य क्षेत्रों का निजीकरण क्यों कर रही है.

कांग्रेस ने भिंड लोकसभा (सुरक्षित) सीट से भाजपा की मौजूदा सांसद संध्या राय के खिलाफ विधायक फूल सिंह बरैया को मैदान में उतारा है.