ENTERTAINMENT-लाइफस्टाइल

रामलला के हाथों में स्वर्ण से बने धनुष-बाण, पीएम मोदी ने की प्राण प्रतिष्ठा

राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह शुरू हो चुका है. मुख्य यजमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गर्भगृह में पूजा-अर्चना कर रहे हैं. साथ ही उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (RSS) प्रमुख मोहन भागवत, राज्यपाल आनंदीबेन पटेल मौजूद हैं. खास बात है कि शुभ मुहूर्त सिर्फ 84 सेकंड का ही है.

राम मंदिर परिसर में किसे एंट्री

श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ने पोस्ट किया था, ‘प्राण प्रतिष्ठा उत्सव में आमंत्रित महानुभावों के लिए जानकारी: भगवान श्री रामलला सरकार के प्राण प्रतिष्ठा उत्सव में प्रवेश केवल श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र द्वारा जारी की गई प्रवेशिका के माध्यम ही संभव है. केवल निमंत्रण पत्र से आगंतुकों को प्रवेश सुनिश्चित नहीं हो पाएगा. प्रवेशिका पर बने QR code के मिलान के पश्चात ही परिसर के प्रवेश संभव हो पाएगा.’

राम नगरी कही जाने वाले उत्तर प्रदेश के अयोध्या में VVIP मेहमानों का आना रविवार से ही शुरू हो गया था. करीब 7000 गणमान्य अयोध्या में इस खास समारोह में शामिल होंगे. इससे पहले ट्रस्ट ने जानकारी दी थी, ‘गर्भ-गृह में प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम के पूर्ण होने के बाद, सभी साक्षी महानुभावों को दर्शन कराया जाएगा.’ ट्रस्ट के अनुसार, समारोह के अनुष्ठान की सभी प्रक्रियाओं का समन्वय, समर्थन और मार्गदर्शन करने वाले 121 आचार्य होंगे. श्री गणेशवर शास्त्री द्रविड़ सभी प्रक्रियाओं की निगरानी, समन्वय और दिशा-निर्देशन करेंगे, तथा काशी के श्री लक्ष्मीकांत दीक्षित मुख्य आचार्य होंगे.

 

Related Articles

Back to top button