ENTERTAINMENT-लाइफस्टाइल

‘मंदिर पर शंकराचार्यों में कोई मतभेद नहीं’

नई दिल्ली. राम मंदिर के प्राण प्रतिष्ठा समारोह में करीब एक हफ्ते का समय बचा है और इस बीच शंकराचार्यों में इस मुद्दे पर मतभेद की खबरें आ रही हैं। वहीं, पुरी के शंकराचार्य निश्चलानंद सरस्वती का कहना है कि राम मंदिर को लेकर शंकराचार्यों के बीच किसी तरह के मतभेद नहीं हैं। उन्होंने कहा कि शास्त्रत्त् सम्मत विधान से प्राण प्रतिष्ठा होनी चाहिए। शंकराचार्य ने कहा कि यह बात गलत है कि राम मंदिर को लेकर चारों शंकराचार्यों में मतभेद हैं।

उन्होंने कहा कि श्री राम यथास्थान प्रतिष्ठित हों यह जरूरी है, लेकिन शास्त्रत्त् सम्मत विधान का पालन करके ही उनकी प्रतिष्ठा हो यह भी जरूरी है। विधिवत प्रतिष्ठा न होने पर विपरीत प्रभाव दिखते हैं, बस इतनी सी बात है। शंकराचार्यों में मतभेद नहीं है।

विजयेंद्र सरस्वती पीएम के समर्थन में : तमिलनाडु के कांचीपुरम स्थित कांची कामकोटि मठ के शंकराचार्य विजयेंद्र सरस्वती ने प्रधानमंत्री का समर्थन करते हुए कहा है कि प्राण प्रतिष्ठा के बाद काशी की में 40 दिन की विशेष पूजा का आयोजन करेंगे।

Related Articles

Back to top button