DESH-विदेश

कोरोना के नए वैरिएंट की छत्तीसगढ़ में भी इंट्री, अलर्ट हुए स्वास्थ विभाग, जांच बढ़ाने के दिए निर्देश

छत्तीसगढ़: प्रदेश में कोरोना के नए वैरिएंट JN-1 के 25 मरीजों में यह वायरस मिला है। इसका खुलासा एम्स की रिपोर्ट से सामने आया है। एम्स ने इसकी रिपोर्ट हेल्थ डिपार्टमेंट को भेज दी है। वहीं, नए वैरिएंट के बीमार मिले मरीजों की हालत फिलहाल खतरे से बाहर बताई जा रही है।

बता दे कि एम्स के वायरोलॉजी विभाग ने लैब में 40 से ज्यादा मरीजों के सैंपल को लेकर टेस्ट किया गया था। जिसकी रिपोर्ट सामने आने पर करीब दो दर्जन से अधिक लोगों में कोरोना के नए वैरिएंट मिला है। नए वैरिएंट के मरीज मिलते ही स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया। हालांकि विभाग ने उनकी हालत स्थिर होने की बात बताई।

कोरोना के नए वैरिएंट मिलने पर स्वास्थ विभाग ने सफाई देते हुए बताया कि इस वैरिएंट से प्रभावित सभी मरीज खतरे के बाहर है। जिन मरीजों में यह वैरिएंट मिला है उनमें से ज्यादातर पेशेंट अपना आइशोलेशन टाइम पूरा कर चुके है। विभाग ने बताया कि मरीजों के सैंपल 15 दिन पहले लेकर जांच के लिए भेजा गया था। जिसकी रिपोर्ट अब सामने आई है।

भले ही नए वैरिएंट JN-1 के कई केस देश के कई राज्यों में मिल चुके हो और यह ओमिक्रॉन से हल्का हो। बावजूद इसके हेल्थ डिपार्टमेंट इसे हल्के में नहीं ले रहा है। एम्स की 25 मरीजों में वायरस मिलने के बाद प्रदेश के सभी जिलों के हेड हेल्थ ऑफिसर को अलर्ट कर दिया गया है।

प्रदेश में 25 नए केस मिलने के बाद से शुक्रवार के दिन से ओपीडी में आने वाले संदिग्ध मरीजों के जांच बढ़ाने के निर्देश दिए गए है। बता दें कि प्रदेश में अभी कोरोना के 112 एक्टिव केस मौजूद है वहीं, सबसे अधिक पेशेंट राजधानी रायपुर में मिले है।

Related Articles

Back to top button