DESH-विदेश

पुलिस के अनुसार: सूचना सेठ ने पहले बच्चे को कफ सिरप पिलाकर बेहोश किया, मुंह दबाकर हत्या की

सूचना सेठ: गोवा पुलिस के अनुसार घटनास्थल पर मिले तथ्य और पोस्टमार्टम रिपोर्ट इस बात की गवाही दे रहे हैं। माना जा रहा है कि उसने पहले बच्चे को कफ सिरप पिलाकर बेहोश किया, बाद में तकिया या किसी भारी कपड़े की मदद से मुंह दबाकर हत्या कर दी। एक पुलिस अधिकारी ने बुधवार को बताया कि जिस कमरे में बच्चे की हत्या की गई, वहां कफ सिरप की दो खाली बोतलें मिली हैं। वहीं, पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक बच्चे की मौत दम घुटने से हुई है।

सूचना का चार साल का बेटा गला घोंटने की कोशिश पर चीख सकता था इसलिए उसने सोची समझी साजिश के तहत कफ सिरप की व्यवस्था की थी। एक बोतल वह पहले साथ लेकर आई थी लेकिन उसे जब लगा कि बेटे को बेहोश करने के लिए सिरप कम पड़ेगा तो उसने होटल के हाउस कीपिंग स्टाफ से कफ सिरप मांगा था। स्टाफ ने बताया कि सूचना ने कहा था कि बेटे को बहुत खांसी हो रही है। पुलिस की माने तो सूचना ने कफ सिरप देकर इसलिए बेहोश किया क्योंकि बच्चा संघर्ष करता तो उसकी पोल खुल सकती थी।

पुलिस ने बताया कि पूछताछ में सूचना ने कहा कि उसने बच्चे की हत्या नहीं की, जब उसकी नींद खुली, तो बच्चा मर चुका था। हालांकि, पुलिस को उसकी कहानी पर भरोसा नहीं है। क्योंकि पोस्टमार्टम रिपोर्ट और घटनास्थल के हालात गवाही दे रहे हैं कि बच्चे की हत्या की गई थी।

बच्चे का पोस्टमार्टम कर्नाटक हिरियुर जिला अस्पताल में किया गया। अस्पताल के प्रशासनिक अधिकारी डॉ. कुमार नाइक ने बताया कि पोस्टमार्टम के वक्त रिगॉर मोर्टिस (मरने के बाद मांसपेशियों की जकड़न) खत्म हो चुकी थी। तकिया या किसी दूसरे भारी कपड़े की मदद से गला घोंटकर बच्चे की हत्या की गई थी। पुलिस के अनुसार होटल के कमरे में मिले खून के निशान सूचना सेठ के ही थे। माना जा रहा है कि उसने पति को फंसाने के लिए साजिश रची थी। पूछताछ में असल मकसद का पता चलेगा।

वेंकट रमन ने बुधवार को बेटे का अंतिम संस्कार किया। रमण मंगलवार रात को ही इंडोनेशिया से भारत लौटे हैं। बुधवार को चित्रदुर्ग से बच्चे के शव को बंगलुरू लाया गया। इसके बाद राजाजी नगर के हरिश्चंद्र घाट पर अंतिम संस्कार किया गया।

Related Articles

Back to top button