DESH-विदेश

सरकार छोटे किसानों के लिए लगातार काम कर रही प्रधानमंत्री मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि केंद्र सरकार छोटे किसानों को मुसीबतों से बाहर निकालने के लिए लगातार काम कर रही है. कृषि में सहकारिता को बढ़ावा देना इसी सोच का परिणाम है, जबकि पूर्व की सरकारों में किसानों के सशक्तीकरण की चर्चा सिर्फ पैदावार और उसकी उपज की बिक्री के इर्द-गिर्द ही सीमित रही.
मोदी की गारंटी की चर्चा दुनियाभर में हो रही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ‘विकसित भारत संकल्प यात्रा’ के लाभार्थियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से संवाद कर रहे थे. उन्होंने कहा कि मोदी की गारंटी वाली इस यात्रा का सबसे बड़ा मकसद है कि कोई भी हकदार सरकारी योजना के लाभ से छूटना नहीं चाहिए.
प्रधानमंत्री ने कहा कि कई बार जागरूकता की कमी से या दूसरे कारणों से कुछ लोग सरकारी योजनाओं के लाभ से वंचित रह जाते हैं. ऐसे लोगों तक पहुंचना हमारी सरकार अपना दायित्व समझती है. आज देश में ही नहीं बल्कि दुनिया में भी मोदी की गारंटी की बहुत चर्चा हो रही है.
गरीब, किसान, महिलाएं और युवा चार बड़ी जातियां
मोदी ने कहा कि उनके लिए गरीब, किसान, महिलाएं और युवा चार सबसे बड़ी जातियां हैं. जब ये सशक्त होंगी तो एक सशक्त भारत सुनिश्चित होगा. पिछले दिनों एमएसपी पर तुअर की दाल की ऑनलाइन खरीद करने की घोषणा का उल्लेख कर प्रधानमंत्री ने कहा कि अभी यह सुविधा तुअर या अरहर दाल के लिए दी गई है, लेकिन आने वाले समय में दूसरे दालों के लिए भी इसका दायरा बढ़ाया जाएगा.
मुश्किल आसान करने को चौतरफा प्रयास किए
मोदी ने कहा पहले की सरकारों में देश में कृषि नीति का दायरा सीमित था. हमारी सरकार ने किसान की मुश्किल को आसान करने को चौतरफा प्रयास किए. पीएम किसान सम्मान निधि के माध्यम से हर किसान को कम से कम 30 हजार रुपये दिए जा चुके हैं.
दो करोड़ से ज्यादा गरीबों के स्वास्थ्य की जांच
मोदी ने कहा कि हमारा प्रयास है कि दाल खरीदने के लिए जो पैसा हम विदेश भेजते हैं, वह देश के ही किसानों को मिल सके. उन्होंने कहा, विकसित भारत संकल्प यात्रा के दौरान दो करोड़ से ज्यादा गरीबों के स्वास्थ्य की जांच हुई है.
उत्तर प्रदेश के गोरखपुर के लक्ष्मी प्रजापति ने प्रधानमंत्री को अपने स्वयं सहायता समूह के बारे में बताया. मोदी ने टेराकोटा शिल्पकार लक्ष्मीचंद से करीब 12 मिनट तक केंद्र की योजनाओं और उनके लाभ को लेकर संवाद किया और गारंटी वाली गाड़ी को लेकर फीडबैक लिया.

Related Articles

Back to top button