कन्नड़ भाषा पर अध्यादेश की तैयारी

0
8

कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धरमैया ने कहा कि सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए एक अध्यादेश लाएगी कि साइनबोर्ड और नेम प्लेट पर 60 फीसदी जगह में कन्नड़ भाषा में जानकारी दी जाए और बाकी जगह किसी अन्य भाषा के लिए छोड़ी जाए. यह अध्यादेश 28 फरवरी, 2024 को लागू होगा.

मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार कन्नड़ भाषा व्यापक विकास अधिनियम (केएलसीडीए) 2022 की धारा 17(6) में भी संशोधन लाएगी. इसे पिछली भाजपा सरकार ने विधानसभा चुनाव से पहले 10 मार्च, 2023 को लागू किया था. कन्नड और संस्कृति विभाग और बेंगलुरु की नागरिक एजेंसियों के अफसरों के साथ बैठक के बाद मुख्यमंत्री ने कहा कि लोगों को नियमों का पालन करना होगा और अगर कोई उनकी अनदेखी करता है, तो उन्हें परिणाम भुगतने होंगे.

मुख्यमंत्री ने 27 दिसंबर को कन्नड़ भाषा के समर्थक संगठनों द्वारा साइनबोर्ड, नेमप्लेट और विज्ञापनों पर कन्नड़ भाषा प्रदर्शित करने की मांग को लेकर उग्र प्रदर्शन करने के मद्देनजर भी चेतावनी दी है.