भारत चावल 25 रुपये किलो की दर पर मिलेगा

0
6

आवश्यक खाद्य सामग्रियों की बढ़ती कीमत से आम लोगों को राहत दिलाने के लिए सरकार ‘भारत चावल’ लाने की तैयारी कर रही है. यह 25 रुपये प्रति किलोग्राम बेचा जाएगा. इसे भारतीय राष्ट्रीय कृषि सहकारी विपणन महासंघ (नेफेड), राष्ट्रीय सहकारी उपभोक्ता महासंघ और केंद्रीय भंडार की दुकानों और मोबाइल वैन के जरिए बेचे जाने की तैयारी है.

इससे पहले सरकार ने ‘भारत आटा’ और ‘भारत दाल’ पेश किया था. सरकार लोगों की थाली को सस्ती बनाने के लिए प्याज और टमाटर भी सस्ते दामों पर बेचती है. नवंबर में खाद्य महंगाई दर 10.3 फीसदी रही थी. इस कारण सरकार ने जरूरत की सभी चीजों को सस्ती दरों पर बेचना शुरू किया है.

हाल में सरकार ने चावल व्यापारियों को मूल्य नियंत्रित करने के लिए चेतावनी दी थी. सरकार ने कहा था कि गैर-बासमती चावल के दाम 50 रुपये प्रति किलोग्राम तक हैं, जबकि सरकार 27 रुपये प्रति किलोग्राम व्यापारियों को उपलब्ध करा रही है. उपभोक्ता मंत्रालय के अनुसार, इस वर्ष चावल की महंगाई 14.1 फीसदी बढ़ी है. सरकार ने खुदरा बाजार में चावल के दाम नियंत्रित करने के लिए गैर-बासमती चावल के निर्यात पर भी रोक लगाई थी. साथ ही बासमती चावल के निर्यात के लिए भी 99, 985 रुपये प्रति टन का न्यूनतम मूल्य निर्धारित किया था.