मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय: रायपुर में नालंदा परिसर का निर्माण किया जाएगा, विद्यार्थि विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर सकेंगे

0
8

रायपुर: मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय ने विद्यार्थियों के हित में आज एक बड़ी घोषणा की है। उन्होंने कहा है कि राजधानी रायपुर में नालंदा परिसर की तर्ज पर एक और नालंदा परिसर का निर्माण किया जाएगा। मुख्यमंत्री साय ने युवाओं की मांग पर यह घोषणा आज सुशासन दिवस पर नालंदा परिसर में आयोजित छाया-चित्र प्रदर्शनी के शुभारंभ के दौरान की। यह प्रदर्शनी भूतपूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न स्व. अटल बिहारी वाजपेयी के कृतित्व एवं व्यक्तित्व पर आधारित है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राजधानी रायपुर में नये नालंदा परिसर के निर्माण के साथ-साथ वर्तमान में संचालित नालंदा परिसर की सुविधाओं में भी बढ़ोतरी की जाएगी। मुख्यमंत्री की इस घोषणा से पीएससी, यूपीएससी सहित विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे युवाओं को बड़ा लाभ होगा।

मुख्यमंत्री ने इस दौरान नालंदा परिसर में प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्र-छात्राओं से बातचीत भी की। उल्लेखनीय है कि नालंदा परिसर में वर्तमान में ढाई हजार पाठकों के बैठने की सर्वसुविधा युक्त व्यवस्था है। प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी के लिए यह लायब्रेरी मददगार साबित हो रही है। यह लायब्रेरी 24 घंटे संचालित हो रही है।

मुख्यमंत्री ने लायब्रेरी में विद्यार्थियों को बधाई एवं शुभकामनाएं दी। इस अवसर पर कैबिनेट मंत्री ओपी चौधरी एवं विधायक आरंग खुशवंत साहेब, विधायक रायपुर (ग्रामीण) मोतीलाल साहू भी उपस्थित थे।

गौरतलब है कि मंत्री ओपी चौधरी जब रायपुर के कलेक्टर थे तब उनकी पहल पर नालंदा परिसर का निर्माण कराया गया है। है कि रायपुर जिले के 01 लाख 70 से अधिक किसानों को दो साल धान के बोनस के रूप में 264 करोड़ 79 लाख रूपए की राशि उनके बैंक खातों में भुगतान किया गया है। तिल्दा के 32 हजार 584 किसानों को 49 करोड़ 19 लाख 52 हजार रूपए की दो साल के धान की बकाया बोनस राशि मिली है।

सुशासन दिवस के मौके पर आयोजित कार्यक्रम में नगर पंचायत अध्यक्ष तिल्दा नेवरा श्रीमती लेमिका गुरु डहरिया, नगर पंचायत अध्यक्ष खरोरा अनिल सोनी, नगर पालिका उपाध्यक्ष तिल्दा नेवरा विकास सुखवानी सहित अन्य गणमान्य नागरिक में उपस्थित थे।