निगम-मंडल में पद पाने के लिए भाजपा नेताओं की फील्डिंग शुरू

0
9

रायपुर. प्रदेश में कांग्रेस सरकार के वक्त निगम-मंडलों में हुई नियुक्तियों को रद्द करने के बाद अब भाजपा नेता उन पदों को पाने अपनी फील्डिंग में जुट गए हैं. कई पदाधिकारी और भाजपा नेता प्रदेश भाजपा कार्यालय में संगठन के आला नेताओं के चक्कर लगा रहे हैं.
सीएम हाउस पहुना में लगा रहे हाजिरी
जानकारी के अनुसार भाजपा के कुछ वरिष्ठ नेता जो पहले निगम-मंडलों और प्राधिकरण के अध्यक्ष रह चुके हैं, वे भी अस्थाई सीएम हाउस पहुना में हाजिरी लगाना शुरू कर दिए हैं. जहां घंटों बैठकर सीएम से मुलाकात कर अपनी पुराने पद की मांग करने लगे हैं. पुराने नेताओं के अलावा नए भाजपा नेता भी निगम-मंडलों में अध्यक्ष या फिर सदस्य बनने का सपना देखने लगे हैं. ये लोग भी अपने-अपने स्तर पर फील्डिंग कर रहे हैं.
आठ निगम अध्यक्ष-सदस्य हो चुके बाहर
बता दें कि सरकार ने निगम-मंडलों और प्राधिकरणों के अध्यक्षों और सदस्यों को पद से हटा दिया है. इन पदों पर भी अभी तक किसी की नियुक्ति नहीं हुई है.
मंत्रिमंडल के गठन के बाद होगी नियुक्ति
जानकारी के अनुसार निगम-मंडलों और प्राधिकरणों में रिक्त पदों पर साय सरकार के मंत्रिमंडल के गठन के बाद नियुक्ति की जाएगी. क्योंकि जिन विधायकों को मंत्रिमंडल में जगह नहीं मिलेगी, उन्हें, संसदीय सचिव, प्राधिकरण और निगम मंडलों के अध्यक्षों का पद दिया जा सकता है. इसके बाद जिन प्राधिकरणों और निगम-मंडलों में पद बचेंगे, उसमें ही भाजपा संगठन के नेताओं के कहने पर ही पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं को पद दिए जाएंगे. फिलहाल सभी की निगाहें मंत्री मंडल के नामों पर टिकी हुई है.