भिलाई: 13 लाख की ठगी के आरोपी को असम से गिरफ्तार कर लाई पुलिस

0
10

भिलाई. दुर्ग पुलिस ने फाइनेंस कंपनी में निवेश करने पर रकम दोगुना करने का झांसा देकर 13 लाख की ठगी करने वाले आरोपी को असम होजाई से गिरफ्तार किया है. पुलिस ने आरोपी परीक्षित चक्रवर्ती के कब्जे से मोबाइल और बैंक खाता के दस्तावेज जब्त किया है. पुलिस आरोपी को ट्रांजिट रिमांड पर भिलाई लेकर लौट आई है.

भिलाई नगर टीआई मनोज राजपूत ने बताया कि 18 जुलाई 2017 को गुलाब सोनकर ने शिकायत की थी. उसने चंडीगढ़ में पैसा निवेश कर ज्यादा फायदा का विज्ञापन सोशल मीडिया पर देखा था. उस विज्ञापन में दिए गए मोबाइल नंबर पर संपर्क किया. दोगुना रकम के लालच में फंस गया. किस्तों में 13 लाख 447 रुपए ठग के खाते में ट्रांसफर कर दिया. निवेश की अवधि पूर्ण होने पर रकम वापस मांगने पर आरोपी आनाकानी करने लगा. लाभ तो दूर मूल राशि में नहीं लौटाया. ठगी का अहसास होने पर गुलाब ने थाना में रिपोर्ट दर्ज कराई. एसएसपी रामगोपाल गर्ग के निर्देश पर साइबर टीम ने जांच शुरु की. आरोपी मोबाइल धारक का लोकेशन आसम होजाई मिला. इसके बाद टीम रवाना हुई. पुलिस की पूछताछ में आरोपी परीक्षित चक्रवर्ती ने बताया कि वह ग्रेजुएट है. प्राइवेट नौकरी करता था, लेकिन उसे कम समय में अमीर बनना था. इसलिए लोगों को फायनेस कंपनी में निवेश करने पर डबल रकम का झांसा देना शुरु किया. एसएसपी गर्ग के निर्देश पर एएसपी अनुराग झा ने पांच सदस्यीय टीम गठित कर असम के लिए रवाना किया. तीन दिन तक सफर कर टीम आसम होजाई पहुंची. इधर एसएसपी ने वहां के एसपी से संपर्क कर लोकल में मदद करने का अनुरोध किया. असम की लोकल पुलिस की मदद से टीम ने आरोपी परीक्षित च₹वर्ती के घर पर दबिश देकर गिरफ्तार कर लिया.