कब शुरू होगा खरमास 2023, खरमास में क्यों नहीं होते शुभ कार्य

0
8

Kharmas 2023: खरमास का महीना बहुत ही महत्वपूर्ण माना गया है क्योंकि इस दौरान 30 दिनों तक शादी-विवाह, मुंडन, गृह प्रवेश जैसे मांगलिक कार्य नहीं किए जाते. खरमास को मांगलिक कार्यों के लिए अशुभ माना जाता है, इसलिए अगर आप भी कोई शुभ कार्य करने वाले हैं तो खरमास शुरू होने से पहले ही निपटा लें.

कब शुरू होगा खरमास 2023?
शास्त्रों के अनुसार जब सूर्य धनु राशि में रहते हैं उस दौरान शुभ कार्य करने से शुभ फल की प्राप्ति नहीं होती. पंचांग के अनुसार सूर्य देव 16 दिसंबर 2023 को धनु राशि में प्रवेश करने जा रहे हैं और इस दिन से ही खरमास की शुरुआत होगी. सूर्य धनु राशि में 15 जनवरी 2024 तक रहेंगे यानि 15 जनवरी को खरमास समाप्त होगा. खरमास एक महीने तक रहेगा और इसके समाप्त होने के बाद ही मांगलिक कार्यों की शुरुआत होगी.

खरमास में क्यों नहीं होते शुभ कार्य?
लड़कियों की शादी के कारक गुरु माने जाते हैं. गुरु कमजोर रहने से शादी में देर होती है. साथ ही रोजगार और कारोबार में भी बाधा आती है. इसके चलते खरमास के दिनों में कोई शुभ कार्य नहीं किए जाते हैं.

खरमास में न करें ये काम
धार्मिक मान्यताओं के अनुसार खरमास यानि मलमास के दौरान शादी-विवाह जैसे कार्य नहीं किए जाते. कहते हैं कि अगर खरमास में शादी की जाए तो सुख-समृद्धि की प्राप्ति नहीं होती और न ही भगवान का आशीर्वाद मिलता. इसलिए खरमास में शादी-विवाह जैसे मांगलिक कार्य वर्जित होते हैं. इसके अलावा खरमास के दौरान 30 दिनों तक सगाई, गृह प्रवेश, जनेऊ और मुंडन जैसे कार्य भी नहीं करने चाहिए.