PM मोदी से जेपी नड्डा ने सरकारों के गठन पर चर्चा की

0
12

नई दिल्ली . भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने मंगलवार देर शाम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की. समझा जाता है कि इस मुलाकात में भाजपा अध्यक्ष ने तीन राज्यों मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में नई सरकारों के गठन को लेकर चर्चा की है.

तीनों राज्यों में भाजपा ने बड़ी जीत हासिल की है. जल्द ही सरकार गठन की प्रक्रिया शुरू की जाएगी. चुनाव नतीजे आने के बाद से ही चल रहे मेल मुलाकातों के दौर में मंगलवार शाम को भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की है. सूत्रों के अनुसार, मुलाकात में भाजपा अध्यक्ष ने तीनों राज्यों की राजनीतिक स्थितियों और भावी सरकार के गठन के मुद्दों पर चर्चा की है. इसमें सबसे प्रमुख मुद्दा नए मुख्यमंत्री के चुनाव का है.

गौरतलब कि भाजपा ने तीनों राज्यों में किसी भी नेता को बतौर मुख्यमंत्री पेश नहीं किया था. ऐसे में पार्टी को अब नए नेतृत्व को लेकर फैसला लेना है, हालांकि मध्य प्रदेश में भाजपा की ही सरकार है और शिवराज सिंह मुख्यमंत्री हैं. जबकि छत्तीसगढ़ व राजस्थान में वह विपक्ष में है.

नड्डा की मोदी से मुलाकात इसलिए भी महत्वपूर्ण है, क्योंकि बीते दो दिनों से राजस्थान में पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे से कई विधायकों ने मुलाकात की है. इसे राजनीतिक हलकों में वसुंधरा राजे के शक्ति प्रदर्शन के रूप में देखा जा रहा है. दूसरी तरफ, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने खुद को मुख्यमंत्री पद का दावेदार न बताकर अगले लोकसभा चुनाव में भाजपा को राज्य से सभी 29 सीटें जीतने का वादा किया है.

इस बीच भाजपा नेताओं ने संकेत दिए थे कि तीनों राज्यों में सरकारों के गठन को लेकर वह जल्दबाजी में नहीं है. इस सप्ताह की आखिर तक नए नेता के चयन का काम पूरा कर लिया जाएगा, लेकिन जिस तरह से विभिन्न राज्यों में जो राजनीतिक स्थिति बन रही है, उसे देखते हुए पार्टी नेतृत्व अब जल्दी ही नए नेताओं के नाम को लेकर फैसला कर सकता है.

सूत्रों के अनुसार, पार्टी विधायकों में से ही वरिष्ठ नेताओं के चयन को वरीयता दे सकती है. हालांकि, यह साफ नहीं है कि शिवराज सिंह चौहान, वसुंधरा राजे और रमन सिंह को लेकर पार्टी क्या फैसला करती है. तीनों ही राज्यों में पार्टी ने अपने कई प्रमुख केंद्रीय नेताओं के चुनाव मैदान में उतारा था और कई चुनाव जीत कर आए हैं. ऐसे में नए नेता को लेकर उसके पास कई सारे विकल्प मौजूद हैं.