राम वनगमन पथ: सीतामढ़ी हरचौका में श्रीराम की 28 फीट प्रतिमा का अनावरण

मनेंद्रगढ़-सोनहत-भरतपुर जिले में सांस्कृतिक विरासत सहेज रहे: सीएम भूपेश

JANKAPUR(Ram Vanagaman Path). सीतामढ़ी हरचौका में भगवान राम की 28 फीट ऊंची प्रतिमा के साथ-साथ श्रीराम वाटिका का अनावरण किया गया। मान्यता है कि राम ने वनगमन के दौरान सीतामढ़ी में कुछ दिन व्यतीत किए थे। इसके अलावा सीएम भूपेश बघेल ने एमसीबी (मनेंद्रगढ़-चिरमिरी-भरतपुर) जिले में कई कार्यों का लोकार्पण व भूमिपूजन किया और बताया कि नए जिले के विकास के लिए अब तक 1240 करोड़ रुपए खर्च कर दिए गए हैं।

चंपारण्य में भूपेश बोले – देश और दुनिया को हम अपनी संस्कृति से बता रहे

सीएम भूपेश ने कहा कि प्रदेश में सबसे ज्यादा देवगुड़ी भरतपुर-सोनहत विधानसभा क्षेत्र में बनी है। इनके जरिए सांस्कृतिक विरासत को सहेजने का काम किया जा रहा है। गौरतलब है, राम वनगमन परिपथ के लिए पहले चरण में 10 स्थलों का चयन किया गया था।

इनमें सीतामढ़ी-हरचौका (एमसीबी), रामगढ़ (अम्बिकापुर), शिवरीनारायण (जांजगीर-चांपा), तुरतुरिया (बलौदाबाजार), चंदखुरी (रायपुर), राजिम (गरियाबंद), सिहावा-सप्तऋषि आश्रम (धमतरी), जगदलपुर (बस्तर) और रामाराम (सुकमा) शामिल हैं। इन स्थानों को डेवलप करने के लिए 137 करोड़ 45 लाख रुपए का कॉन्सेप्ट प्लान बना था। सारा काम उसी के तहत किया जा रहा है।

पर्यटकों की सुविधा के लिए इंफ्रास्ट्रक्चर किया जा रहा डेवलप

प्रदेेश सरकार ने रासीतामढ़ी हरचौका के विकास के लिए 3.84 करोड़ रुपए स्वीकृत किए थे। इसके तहत घाट का डेवलपमेंट, वहां पर कियोस्क, सीतामढ़ी के पास बैठने की जगह तथा राम वाटिका डेवलप की गई है। भगवान राम की 28 फीट ऊंची प्रतिमा यहीं लगी है। पर्यटकों की सुविधा के लिए इंटरनेशनल इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलप किया जा रहा है।

Back to top button