BREAKINGDESH-विदेश

15 अगस्त पर हमले की साजिश रच रहे हिजबुल-जैश

देशभर में अलर्ट की गईं सुरक्षा एजेंसियां, अब होंगे कड़े सुरक्षा प्रबंध

NEW DELHI. देशभर में स्वतंत्रता दिवस की तैयारी जोरों पर है। इस बीच आतंकी संगठन हिजबुज मुजाहिदीन व जैश-ए-मुहम्मद 15 अगस्त पर UP में हमले की साजिश रच रहे थे। मुरादाबाद निवासी आतंकी अहमद रजा व उसका ट्रेनर फिरदौस कोई बड़ी वारदात करने की फिराक में थे। एटीएस की छानबीन में यह तथ्य सामने आने के बाद पड़ताल और तेज की गई है।

जानकारी के अनुसार अहमद व फिरदौस से जुड़े कुछ संदिग्धों को भी सरगर्मी से तलाशा जा रहा है। अहमद जैश-ए-मुहम्मद के पाकिस्तान में बैठे सक्रिय सदस्य वलीद के भी सीधे संपर्क मेंं था। एटीएस ने अहमद की निशानदेही पर मुरादाबाद में उसके गांव गुलडिया से .32 बोर की आटोमैटिक पिस्टल (मेड इन यूएसए) व छह कारतूस बरामद किए हैं।

जांच में यह भी सामने आया है कि वलीद के कहने पर ही अहमद ने पिस्टल खरीदी थी। उसे अन्य साथियों के साथ हमले के लिए तैयार किया गया था। हालांकि अधिकारियों का कहना है कि कई बिंदुओं पर अभी पड़ताल की जा रही है। डीजीपी विजय कुमार का कहना है कि हमले की साजिश कहां थी, सुरक्षा कारणों से उसे उजागर नहीं किया जा रहा है।

पिस्टल छिपाने की बात स्वीकारी

एटीएस अधिकारियों के अनुसार अहमद ने अपने गांव गुलडिया में पिस्टल छिपाकर रखने की बात स्वीकार की थी। उसे शुक्रवार को मुरादाबाद ले जाकर पिस्टल बरामद कर ली गई है। उसने आतंकी घटना करने के लिए यह असलहा जुटाया था। अब उसके विरुद्ध दर्ज विधि विरुद्ध क्रियाकलाप (निवारण) अधिनियम व अन्य धाराओं में दर्ज मुकदमे में आम्र्स एक्ट की भी बढ़ोतरी की गई है।

Related Articles

Back to top button