बीजापुर में 211 हड़ताली संविदा कर्मचारियों की नौकरी खत्म

छत्तीसगढ़ का पहला जिला, जहां हड़तालियों को किया गया बर्खास्त, कलेक्टर ने जारी किए जादेश

BIJAPUR. 211 contractual employees lose jobs in Bijapur. बीजापुर जिले में हड़ताल करने वाले संविदा कर्मचारियों पर कार्रवाई की गई है। जिले में पिछले कई दिनों से अपनी मांगों को लेकर हड़ताल कर रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग के अंतर्गत नेशनल हेल्थ मिशन के 211 संविदा कर्मचारियों की सेवाएं समाप्त कर दी गई है, अर्थात बर्खास्त कर दिया गया है। कर्मचारियों की सेवा समाप्ति का बीजापुर कलेक्टर राजेन्द्र काटारा ने आदेश जारी कर दिया है। हड़तालियों पर  इस पर प्रशासन अब सख्त हो गई है।

पढ़ें पूरा आदेश

दरअसल, छत्तीसगढ़ में पहली बार ऐसी कार्रवाई की है। हड़ताली संविदा कर्मचारियों को बर्खास्त करने वाला बीजापुर पहला जिला बन गया है। बता दें कि बीजापुर समेत प्रदेशभर में संविदाकर्मी संविलियन की मांग को लेकर लंबे समय से हड़ताल पर हैं। छत्तीसगढ़ सर्व विभागीय संविदा कर्मचारी महासंघ के बीजापुर जिला अध्यक्ष रमाकांत पुनेठा ने कहा कि लोकतांत्रिक तरीके से चुनाव से पहले किए गए जनघोषणा पत्र के वादे को लेकर प्रांतीय आह्वान पर 3 जुलाई से कर्मचारी हड़ताल पर हैं। किसी भी जिले में अभी तक कोई करवाई नहीं की गई है।

संगठन-समाज से अपील-हमारा सहयोग करें

बीजापुर में 211 स्वास्थ विभाग एनएचएम के कर्मचारियों पर कार्रवाई किया गया, जो कर्मचारी जगत के लिए काला दिन है। हम इसकी घोर निंदा करते हैं। जब तक इन कर्मचारियों की वापसी नहीं होती, तब तक बीजापुर जिले के कोई भी संविदा कर्मचारी ऑफिस ज्वाइन नहीं करेंगे। इस कठिन समय में जिले के समस्त कर्मचारी संगठन और सभी समाज प्रमुख से निवेदन करता हूं कि हमारा सहयोग करें।

Back to top button