लघु धान्य प्रसंस्करण और मूल्य संवर्धन उत्पाद इकाई का लोकार्पण

एक दिवसीय बस्तर दौरे के दौरान सीएम भूपेश ने किया उद्घाटन

कांकेर।Inauguration of Small Cereal Processing and Value Addition Products Unit. जिले में लघु धान्य (कोदो-कुटकी-रागी) की प्रसंस्करण तथा इससे संबंधित मूल्य संवर्धन उत्पाद इकाई का लोकार्पण किया। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ शासन के मिलेट मिशन के तहत कांकेर जिले के ग्राम नाथियानवागांव में अवनी आयुर्वेदा प्राइवेट लिमिटेड द्वारा स्थापित किया गया है।

छत्तीसगढ़ में महात्मा गांधी रूरल इंडस्ट्रियल पार्क योजना का शुभारंभ, ये हैं इस स्कीम के फायदे

उक्त प्रसंस्करण इकाई में सात प्रकार के मशीनों द्वारा कोदो-कुटकी-रागी को प्रसंस्कृत कर खाद्य अनाज तथा इनके दलिया, सूजी, आटा, सेवई, पास्ता, सूप मिक्स, बिस्किट, कुकीज, लड्डू इत्यादि बनाने के साथ-साथ इनका पैकेजिंग भी किया जाएगा। इन उत्पादों की मार्केटिंग राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय स्तर पर किया जाएगा।

Breaking: आज से हसदेव अरण्य में पेड़ों की कटाई शुरू…देखें वीडियो

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने लघु धान्य प्रसंस्करण तथा इससे संबंधित मूल्य संवर्धन उत्पाद इकाई का लोकार्पण कर संयंत्र का अवलोकन किया तथा प्रोसेसिंग के विभिन्न प्रक्रिया की जानकारी ली। उन्होंने लघु धान्य से तैयार लड्डू एवं हलवा को चखकर भी देखा। लघु धान्य प्रसंस्करण तथा इससे संबंधित मूल्य संवर्धन उत्पाद इकाई का लोकार्पण पश्चात अपने संक्षिप्त उद्बोधन में ग्रामीणों को संबोधित करते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा बस्तर के बकावण्ड में काजू प्रोसेसिंग यूनिट स्थापित किया गया है, जिससे वहां के किसान लाभान्वित हो रहे हैं।

इमली संग्राहकों को भी लाभ मिलेगा

आज लोहण्डीगुड़ा विकासखंड के ग्राम धुरागांव में इमली प्रोसेसिंग यूनिट स्थापित की गई है, जिससे इमली संग्राहकों को लाभ मिलेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि शुक्रवार को कांकेर के नाथियानवागांव में लघु धान्य प्रोसेसिंग इकाई का शुभारंभ किया गया है, जिससे कोदो-कुटकी-रागी की खेती करने किसानों के साथ-साथ महिला स्व-सहायता समूहों को भी फायदा मिलेगा।

Back to top button