भाजपा नेता सोनाली फोगाट का आज होगा अंतिम संस्कार, पोस्टमार्टम में शरीर पर मिले चोट के निशान

इस मामले में पुलिस ने निजी सचिव समेत दो गिरफ्तार किया

पणजी। भाजपा नेता-टिकटॉक स्टार सोनाली फोगाट की मौत के बाद परिजनों के संदेह के बाद पुलिस ने जांच तेज कर दी है। वहीं, पाेस्टमार्टम में सोनाली फोगाट के शरीर पर चोट के निशान मिले हैं। पोस्टमार्टम के बाद भाजपा नेता सोनाली फोगाट का पार्थिव शरीर गुरुवार देर रात दिल्ली हवाईअड्डे पहुंचा। उसके बाद उसे हिसार ले जाया गया। शुक्रवार को उनका अंति‍म संस्कार किया जाएगा।

दिल्ली में डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया के आवास पर छापेमारी, इन अधिकारियों का भी नाम

दरअसल, आरोपी सुधीर सागवान और सुखविंदर वासी 22 अगस्त को सोनाली (42) को लेकर गोवा पहुंचे थे। पुलिस ने उनके निजी सचिव सुधीर सांगवान और दोस्त सुखविंदर के विरुद्ध हत्या का केस दर्ज कर दोनों को गिरफ्तार कर लिया है। अभिनेत्री की मौत के दो दिन बाद गुरुवार को परिवार की सहमति से डाक्टरों के बोर्ड ने शव का पोस्टमार्टम किया। उनके खून के नमूने और बिसरा को जांच के लिए भेज दिया गया है।

जानकारी के अनुसार पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने से पहले ही गोवा पुलिस ने सोनाली के भाई रिंकू ढाका की शिकायत पर हत्या का केस दर्ज कर लिया। सोनाली फोगट को 23 अगस्त की सुबह उत्तरी गोवा जिले के अंजुना के सेंट एंथोनी अस्पताल में मृत लाया गया था। डॉक्टरों ने कहा था कि प्रथम दृष्टया उसकी मौत दिल का दौरा पड़ने से हुई है।

गुरुवार सुबह उसके शरीर का पोस्टमार्टम किया गया और इसके तुरंत बाद अंजुना पुलिस ने मामले में हत्या का आरोप जोड़ा और सुधीर सांगवान और सुखविंद वासी को गिरफ्तार कर लिया। मालूम हो कि फिल्म की शूटिंग करने गोवा गईं सोनाली फोगाट की 23 अगस्त को मौत हो गई थी।

डॉक्टर ने अपनी रिपोर्ट में मौत के कारणों पर सुरक्षित रखी राय

जीएमसीएच के फॉरेंसिक साइंस विभाग के डॉ सुनील श्रीकांत चिंबोलकर ने अपनी रिपोर्ट में मौत के कारणों पर राय सुरक्षित रखी है। रिपोर्ट में कहा गया है कि मेरे सर्वोत्तम ज्ञान और विश्वास के कारण मृत्यु का कारण रासायनिक विश्लेषण लंबित है। ऊतकों की हिस्टोपैथोलॉजी और सीरोलॉजकल रिपोर्ट संरक्षित है। हालांकि, शरीर पर कई जगह चोट के निशान हैं। इसके मद्देनजर जांच अधिकारी को पता लगाना है कि किस कारण मौत हुई है।

भाई रिंकू ने जताया था शक

सोनाली के भाई रिंकू ढाका ने कहा कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौत का कारण 4 चोटें और जहर बताया गया है। हम शुरू से ही मौत का कारण हार्ट अटैक नहीं मानते रहे हैं। यह एक सुनियोजित हत्या है। हमें निजी सचिव सुधीर सगवन और सहयोगी सुखविंदर पर शक है। वे समान रूप से शामिल हैं।

Back to top button