भारती टेलीकॉम सिंगापुर में करेगी निवेश, सिंगटेल की 3.33% हिस्सेदारी खरीदेगी

भारतीय टेलीकॉम ने कहा है कि यह डील 90 दिनों में पूरी होगी

नई दिल्ली। देश की दूसरी सबसे बड़ी दूरसंचार सेवा प्रदाता कंपनी एयरटेल की शेयर होल्डिंग में बड़ा बदलाव होने वाला है। एयरटेल की प्रमोटर कंपनी भारती टेलीकॉम ने अपने सिंगापुर के पार्टनर सिंगटेल के साथ इसके लिए सौदा किया है। इस डील के तहत सिंगापुर टेलीकम्यूनिकेशंस एयरटेल में अपनी 3.33 फीसदी की हिस्सेदारी भारती टेलीकॉम को सौंप देगी।

अब मोबाइल से कुछ सेकंड्स में ही कर सकेंगे अनुवाद, ऐसे कर सकते हैं ट्रांसलेट

दोनों कंपनियों के बीच यह डील 2.25 अरब सिंगापुर डॉलर यानी करीब 12895 करोड़ रुपए में होगी। भारतीय टेलीकॉम ने कहा है कि यह डील 90 दिनों में पूरी होगी। सिंगटेल ने एक बयान में कहा कि लेन-देन के बाद सिंगटेल समूह की भारती एयरटेल में 29.7 प्रतिशत की प्रभावी हिस्सेदारी होने की उम्मीद है, जिसकी कीमत लगभग 1.26 लाख करोड़ रुपये है।

मित्तल ने कहा, ‘इस आपसी लेनदेन के बाद भारती टेलीकॉम के पास एयरटेल में नियंत्रित शेयर होंगे। भारती एंटरप्राइजेज और सिंगटेल समय के साथ एयरटेल में अपनी प्रभावी हिस्सेदारी को बराबरी पर लाने की दिशा में काम करेंगे।’

एयरटेल में बराबर की हिस्सेदारी के लिए हो रहा सौदा

भारती एयरटेल की ओर से शेयर बाजार को दी गई जानकारी में कहा गया है कि सिंगटेल और उसकी सहयोगी कंपनियों ने एयरटेल में अपनी 3.33% हिस्सेदारी भारती टेलीकॉम लिमिटेड (BTL) को सौंपने के लिए समझौता किया है। BTL की ओर से कहा गया है कि भारती टेलीकॉम और सिंगटेल ने अपनी हिस्सेदारी बराबर-बराबर करने के लिए यह समझौता किया है। फिलहाल एयरटेल में सिंगटेल की 50.56% हिस्सेदारी है जबकि मित्तल परिवार की कंपनी में 49.44% की हिस्सेदारी है।

Back to top button