Breaking: भारी बारिश के चलते लैंड स्लाइड, छत्तीसगढ़-मध्यप्रदेश मार्ग बंद, शहडोल रूट भी डायवर्ट

मध्यप्रदेश व राजस्थान के कई शहरों में स्कूलों में छुट्टी घोषित

बिलासपुर। छत्तीसगढ़-मध्यप्रदेश में हो रही भारी बारिश के चलते जनजीवन प्रभावित हो रहा है। जानकारी के अनुसार बारिश के चलते गौरेला-पेंड्रा-मरवाही से करीब 15 किमी आगे अनूपपुर में लैंडस्लाइड होने से सड़क क्षतिग्रस्त हो गई है। इसके चलते 15 से 20 ट्रक फंस गए हैं। वहीं राजेंद्रग्राम-अमरकंटक को जोड़ने वाले किरर मार्ग पर रिटेनिंग वॉल सहित सड़क बह गई है।

इसके बाद प्रशासन ने आवाजाही के लिए अगले आदेश तक प्रतिबंध लगा दिया है। देश के कई राज्यों में हो रही भारी वर्षा से नदी-नाले उफान पर हैं और कई शहरों में बाढ़ की स्थिति पैदा हो गई है। वहीं मध्यप्रदेश व राजस्थान के कई शहरों में स्कूलों में छुट्टी घोषित कर दी गई है।

दरअसल, बारिश के चलते अनूपपुर जिले के पुष्पराजगढ़ विकासखंड क्षेत्र से होकर शहडोल-छत्तीसगढ़ राज्य को जोड़ने वाले सिंहपुर-शहडोल-तुलरा मार्ग में तुलरा से 5 किलोमीटर आगे लैंड स्लाइड हुआ है। इसके चलते बड़े-बड़े पत्थर सड़क पर गिरे हैं। यह छत्तीसगढ़ से मध्यप्रदेश और उत्तर प्रदेश को जोड़ने वाला मुख्य मार्ग है। यहां तमाम वाहन फंसे हुए हैं। हालांकि मलबा हटाने का काम जारी है।

जानकारी के अनुसार मध्य प्रदेश और यूपी से छत्तीसगढ़ की ओर आने वाले वाहनों को शहडोल से डायवर्ट कर दिया गया है। इसके चलते अनूपपुर और अमरकंटक आने वाले लोगों को लंबी दूरी तय करनी पड़ रही है। पुष्पराजगढ़ के एडीएम अभिषेक चौधरी ने बताया है कि फंसे ट्रकों के निकालने के बाद मार्ग को प्रतिबंधित किया जाएगा। सरई और तुलरा मार्ग पर आवाजाही रोकने के लिए बैरिकेडिंग की गई है। जो वाहन शहडोल की ओर से आ रहे थे, उन्हें लौटाया जा रहा है।

किरर मार्ग पर अनिश्चिकाल के लिए बंद

राजेंद्रग्राम मार्ग स्थित किरर घाट मार्ग में क्रैक और रिटेनिंग वॉल क्षतिग्रस्त हो गई है। हालांकि रिटेनिंग वॉल को हटा दिया गया है। कलेक्टर सोनिया मीना ने बताया कि 20 अगस्त की रात से लगातार बारिश हो रही है। भूस्खलन की संभावना को देखते हुए किरर घाट-राजेंद्रग्राम मार्ग को प्रतिबंधित किया गया है। राजेंद्रग्राम-अमरकंटक की ओर आने वाले यात्रियों को जैतहरी होकर बैहार घाट से राजेंद्रग्राम को जोड़ने वाले मार्ग पर डायवर्ट किया गया है।

Back to top button