Breaking: नक्सलियों ने आत्मसमर्पित माओवादी को मार डाला

तीन महीने पहले बीजापुर पुलिस के सामने किया सरेंडर

बीजापुर। जिले से इस वक्त बड़ी खबर मिली है। जानकारी के अनुसार नक्सलियों ने आत्मसमर्पित माओवादी को मार डाला। घटनास्थल पर चाकू और हाथ पैर में रस्सी के निशा मिले हैं। भैरमगढ थानाक्षेत्र के पोंदुम मार्ग पर शव मिला। हालांकि शव के पास से माओवादियों को कोई पर्चा नहीं मिला है।

बड़ी खबरः प्रदेश में ईडी ने सराफा कारोबारियों से जब्त किए 15 किलो सोना, 671 किलो चांदी

बताया गया कि तीन माह पहले बीजापुर पुलिस के समक्ष मृतक बामन पोयाम ने सरेंडर किया था। बामन माओवाद संगठन में मिलिशिया सदस्य के पद पर था। इस घटना की एसपी अंजनेय वार्ष्णेय ने पुष्टि की। भैरमगढ़ पुलिस को इसकी सूचना मिलते ही एसडीओ पी तारेश साहू व टीआई के नेतृत्व में जवानों दल घटना स्थल से शव बरामद किया गया है। घटना भैरमगढ़ थाना क्षेत्र के मामला होने कारण पुलिस द्वारा रिपोर्ट दर्ज कर जांच जारी है।
ग्राम जप्पेमरका निवासी आत्मसर्पित नक्सली बामन पोडियम की हत्या का रहस्य अभी भी बना हुआ है। पुलिस अभी भी इस हत्या को पूर्ण रूप से नक्सली हत्या नहीं मान रही है। गौरतलब है कि बीजापुर में संदिग्ध माओवादियों ने एक आत्मसमर्पित माओवादी कोरसा जोगा ऊर्फ़ शिवाजी की हत्या कर दी थी। 2 जनवरी 2015 को बीजापुर ज़िला मुख्यालय से केवल चार किलोमीटर दूर कोरसा जोगा अपनी पत्नी के साथ कोतपाल रोड के एक ईंट भट्ठे पर गए थे, जहां उन्हें घेरकर गोली मार दी थी।

Back to top button