दिल्ली में डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया के आवास पर छापेमारी, इन अधिकारियों का भी नाम

सिसोदिया के घर और निजी गाड़ी के दस्तावेज खंगालती रही सीबीआई

नई दिल्ली। नई आबकारी नीति की खामियों को लेकर सीबीआई ने दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के आवास पर छापेमारी की। देर रात तक सीबीआई उनके घर और निजी गाड़ी के दस्तावेज खंगालती रही। दिल्ली के उपमुख्यमंत्री के आवास पर छापे के बाद आबकारी विभाग के तमाम अधिकारियों और कर्मचारियों में हड़कंप है।

भाजपा ने संसदीय बोर्ड में बड़ा बदलाव किया, शिवराज और गडकरी बाहर, देखिए पूरी लिस्ट

सीबीआई की एफआईआर में जिन लोगों के नाम दर्ज हैं उनके खिलाफ कभी भी कार्रवाई हो सकती है। हालांकि दिल्ली सरकार के कुछ और मंत्री और अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई होना भी तय है। इस मामले में ईडी भी छापेमारी कर सकती है। फिलहाल, सीबीआई की लिस्ट में 16 अधिकारियों के खिलाफ मामला दर्ज है। सीबीआई अधिकारियों ने उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के घर की तलाशी के बाद उनकी कारों की भी तलाशी ली है।

दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया, तत्कालीन आबकारी आयुक्त अरवा गोपीकृष्णा, तत्कालीन आबकारी उपायुक्त आनंद तिवारी, आबकारी अतिरिक्त आयुक्त पंकज भटनागर, एंटरटेनमेंट एंड इवेंट मैनेजमेंट कंपनी ऑनली मच लाउडर के सीईओ विजय नायर, पेरनोड रिकार्ड के पूर्व कर्मी मनोज राय, ब्रिंडको सेल्स प्राइवेट लिमिटेड के निदेशक अमनदीप ढल, इंडोस्प्रिट ग्रुप के प्रबंध निदेशक समीर महेंद्रु, बडी रिटेल प्राइवेट लिमिटेड के निदेशक अमित अरोड़ा, फर्म बडी रिटेल प्राइवेट लिमिटेड, दिनेश अरोड़ा, फर्म महादेव लिकर्स, महादेव लिकर्स के वरिष्ठ अधिकारी सन्नी मारवाह, अरुण रामचंद्र पिल्लई, अर्जुन पांडे व अज्ञात।

एक अधिकारी ने बताया कि कथित आबकारी घोटाले में सीबीआई ने अपनी एफआईआर में दिल्ली के उपमुख्यमंत्री सीएम मनीष सिसोदिया सहित 15 आरोपियों के नाम शामिल किए हैं। आबकारी नीति और उससे जुड़े भ्रष्टाचार के मामले में सीबीआई के बाद अब ईडी की एंट्री भी होने वाली है।

ईडी मुख्यालय द्वारा सीबीआई को खत लिखा गया है। ईडी जल्द ही सीबीआई द्वारा दर्ज इस केस को अपने हाथों में ले सकती है। ईडी ने सीबीआई द्वारा दर्ज एफआईआर की कॉपी समेत अन्य दस्तावेजों की कॉपी मांगी है।

 

Back to top button