बड़ी खबरः प्रदेश में ईडी ने सराफा कारोबारियों से जब्त किए 15 किलो सोना, 671 किलो चांदी

तीन दिन जांच के बाद कार्रवाई पूरी

रायपुर। छत्तीसगढ़ में ईडी की जांच। छत्तीसगढ़ में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने सराफा कारोबारियों पर छापामार कार्रवाई कर तीन किलो 800 ग्राम सोना, 12 किलो सोने के आभूषण, 671 किलो चांदी और एक करोड़ 41 लाख रुपये नकद जब्त किए गए हैं। जानकारी के अनुसार ईडी ने म्यांमार और बांग्लादेश से अवैध सोना लाने वाले रैकेट को पकड़ा है। तीन दिनों तक चली जांच के बाद ईडी ने पाया कि कारोबारियों ने अवैध तरीके से बांग्लादेश से सोने की तस्करी की। ईडी ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी।

राजनांदगांव के सराफा कारोबारी विजय कुमार बैद (विक्की) पर डायरेक्टर आफ रेवेन्यू इंटेलिजेंस की कार्रवाई में मिले इनपुट के आधार पर रायपुर, दुर्ग, राजनांदगांव और बालोद के सराफा कारोबारियों के 21 ठिकानों पर ईडी की टीम ने पांच अगस्त को कार्रवाई की थी। ईडी के अधिकारियों ने बताया कि सोना तस्करों ने पहले म्यांमार से सोना को बांग्लादेश पहुंचाया।

Breaking: आपके काम की खबर: अब घर बैठे वोटर कार्ड से आधार से लिंक कर सकेंगे, ऐसे करें…

वहां से सोना कोलकाता पहुंचा, जहां से सड़क और रेलमार्ग से रायपुर लाया गया। कारोबारियों ने हवाला के माध्यम से पैसे का भुगतान किया। अधिकारियों के मुताबिक विदेशी सोना की तस्करी के रैकेट का संचालन छत्तीसगढ़ और पड़ोसी राज्य से किया जा रहा था।

झारखंड में भी छापेमारी

ईडी की टीम ने झारखंड में एक स्थान पर छापामार कार्रवाई की थी। ईडी के अधिकारियों को कुछ डिजिटल उपकरण भी मिले हैं, जिनमें कारोबारियों के लेन-देन के रिकार्ड हैं। उन्हें भी जब्त कर लिया गया है। ईडी ने कारोबारियों के खिलाफ मनी लांड्रिंग एक्ट के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू की है।

Back to top button